धमाके में घायल महिला के लिए जवान ने बनाया लकड़ी का कावड़, कंधे पर उठाकर पहुंचाया अस्पताल

धमाके में घायल महिला के लिए जवान ने बनाया लकड़ी का कावड़, कंधे पर उठाकर पहुंचाया अस्पताल

By: Madhu Sagar
January 09, 09:01
0
New Delhi: सुरक्षाबल के जवान हमेशा अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों की सुरक्षा करते हैं। छत्तीसगढ़ की अस घटना में जवानों ने अपनी जान जोखिम में डालकर घायल महिला को अस्पताल पहुंचाया था

छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले में रविवार को जवानों का एक दल बीजापुर के नक्सल प्रभावित इलाके गंगालूर में सर्च ऑपेरशन पर गया था। इस दौरान नक्सलियों ने एक के बाद एक कई आईईडी ब्लास्ट किए। 


ब्लास्ट से होने वाले धमाकों से जवान तो बच गए लेकिन दो ग्रामीण महिलाएं घायल हो गईं। जब जवान महिलाओं के करीब पंहुचे तो वे दर्द से कराह रही थीं। मौके पर महिलाओं को अस्पताल पहुंचाने के लिए न तो वहां कोई एम्बुलेंस थी और न ही कोई और जरिया।


इन हालात में जवानों ने जंगल की लकड़ियों से ही एक कावड़ बनाई और अपनी जान की परवाह किए बगैर बारूदी सुरंगों के खतरे के बीच महिलाओं को कावड़ पर बैठाकर अस्पताल के लिए निकल पड़े। 

इस दौरान राह में एक जवान का पैर जमीन के नीचे लगी बारूदी सुरंग पर पड़ गया और उसमें ब्लास्ट होने पर वह घायल हो गया। इसके बावजूद जवानों ने घने जंगल से निकालकर महिलाओं को अस्पताल तक पंहुचाया।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।