कल भारत की धरती पर फिर लौटेगा 26/11 हमले का मोशे,PM नेतन्याहू के साथ बोलेगा 'नमस्ते इंडिया'

कल भारत की धरती पर फिर लौटेगा 26/11 हमले का मोशे,PM नेतन्याहू के साथ बोलेगा 'नमस्ते इंडिया'

By: Madhu Sagar
January 14, 14:01
0
New Delhi: इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू आज यानी रविवार से 6 दिवसीय भारत दौरे पर हैं। पीएम मोदी ने इस ऐतिहासिक यात्रा का स्वागत किया। 

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्याहू भारत दौर पर पहुंच गए है। इस ऐतिहासिक यात्रा पर पीएम मोदी ने बेंजामिन नेतन्याहू को गले लगाकर स्वागत किया। पीएम मोदी और नेतन्याहू दो बार गले मिले। वहीं इस दौरान बेंजामिन की पत्नी सारा साथ में मौजूद रहीं। पीएम मोदी ने बहुत ही गर्मजोशी के साथ उनसे हाथ मिलाकर भारत की धरती पर उनका वेलकम किया। 

पढ़े- 'तीन मूर्ति चौक' को 'तीन मूर्ति हैफा चौक' कहिए! वर्ल्ड वार-I का 'हाइफा डे' है रिनेम का  कारण


बेंजामिन नेतन्याहू के साथ उनकी पत्नी सारा के साथ-साथ 130 सदस्यों का प्रतिनिधिमंडल भी यहां आ रहा है। लेकिन इन सब के साथ एक ऐसा बच्चा भी आ रहा है जिसके लिए यहां आना उसके जीवन के बेहद भावुक पलों में से एक होगा। उस बच्चे का नाम है मोशे होलत्जबर्ग।

पढ़े- नेतन्याहू की पत्नी ने मोदी को गले लगाने के लिए बढ़ाया अपना हाथ, देखिए फिर पीएम ने क्या किया

26/11 के मुंबई आतंकी हमले में जिंदा बच गए मोशे होलत्जबर्ग की उम्र अभी 11 साल है, 2008 के आतंकवादी हमले के वक्त वह केवल दो साल का था। मुंबई के चाबद हाउस (नरीमन हाउस) पर हुए हमले में उसके माता-पिता मारे गए थे। वो उनके शव के बीच रोता हुआ मिला था। मोशे को उसकी भारतीय नैनी सैंड्रा सैमुअल ने बहादुरी दिखाकर बचाया था।


मोशे के नाना रब्बी रोजेनबर्ग ने कहा कि 15 जनवरी को मुंबई जाने को लेकर मोशे काफी उत्साहित और भावुक है। वो अपने जन्म स्थान पर लौट रहा है। वो अपने माता-पिता से जुड़ी कई यादों को देखना चाहता है, जिसे वो अब तक मुझसे या अपनी नैनी से सुनता आया है।

पिछले साल 5 जुलाई को यरुशलम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात में भावुक मोशे ने मुंबई आने की इच्छा जाहिर की थी। मोशे ने कहा था कि मुझे उम्मीद है कि मैं मुंबई की यात्रा कर सकूंगा और बड़े होने पर वहां रह भी सकूंगा। मैं अपने चाबद हाउस का निदेशक भी बनूंगा।

इसपर मोदी ने कहा था कि भारत आओ और मुंबई में रहो। तुम्हारा बहुत स्वागत है। आप को और आपके परिवार को लंबे समय तक रहने का वीजा मिलेगा। जिससे कि आप कभी भी आ सकते हैं और कहीं भी जा सकते हैं।

इजरायली पीएम नेतन्याहू ने तब मोशे को कहा था कि वो उनके साथ भारत आ सकता है। अपने उसी वादे को निभाते हुए पीएम नेतन्याहू मोशे परिवार को अपने साथ भारत दौरे पर ला रहे हैं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।