देश की सबसे बड़ी जॉब्स क्रिएटर कंपनी में अकाल, नहीं बचीं नौकरियां

देश की सबसे बड़ी जॉब्स क्रिएटर कंपनी में अकाल, नहीं बचीं नौकरियां

By: Aryan Paul
January 12, 15:01
0
New Delhi: TCS में भी नौकरी का अकाल पड़ता दिख रहा है। कभी देश में जॉब्स के मामले में यह कंपनी टॉप पर हुआ करती थी। जानिए क्या हैं कारण ?

देश की दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टंसी सर्विसेज जॉब को लेकर तेजी से कमजोर पड़ती जा रही है। कंपनी ने पिछले 9 महीनों में सिर्फ 3,657 ही नई नौकरियां दी हैं। बता दें कि यह आंकड़ा पिछले वित्त वर्ष की दौरान दी गई नौकरियों के मुकाबले 85 प्रतिशत कम है जब कंपनी ने 24,654 लोगों को हायर किया था। 

tcs

जानकारों का कहना है कि कैंपस से थोक में नई नौकरियां देना अब बीते दिनों की बात होती जा रही है, क्योंकि कंपनियां खासकर नए युग की डिजिटल तकनीक के दौर में सामान्य कार्यों के लिए ऑटोमेशन लागू कर रही हैं और प्रमुख रूप से आला दर्जे के टैलंट को ही नौकरी पर रख रही हैं।

जानें क्यों, सर्दियों में होती वजन बढ़ने की परेशानी

tcs

टीसीएस के एग्जिक्युटिव अजय मुखर्जी का कहना है कि एक साल पहले वे अडवांस कपिसिटी बिल्डिंग कर रहे थे। तब TCS ने 40,000 कैंपस ऑफर्स दिए। उन्होंने अपने वर्कफोर्स में 78,912 लोगों को नई नौकरियां दी। कुल मिलाकर 33,000 से 34,000 अतिरिक्त नौकरियां दीं।

tcs

उनका कहना है कि अब वो समय पर हायरिंग करने पर जोर दे रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष के पहले 6 महीनों में टॉप छह इंडियन आईटी कंपनियों का वर्कफोर्स 13,402 घट गया जबकि पिछले साल की इसी अवधि में 60,240 अतिरिक्त वर्कफोर्स जुड़े थे। 

आधार कार्ड वालों के लिए सबसे जरूरी खबर, जून से कहीं भी नहीं देना पड़ेगा 12 अंकों वाला नंबर


tcs

बता दें कि कंपनियों की ग्रोथ में मंदी इसकी बड़ी वजह है। TCS ने गुरुवार को अर्निंग्स रिपोर्ट दी, जिसमें कहा गया है कि कंपनी का रेवेन्यू पिछली चार तिमाहियों में सबसे कम तेजी से बढ़ा है, क्योंकि उसका फाइनेंशल सर्विस ऐंड इंश्योरेंस बिजनस नेगेटिव ग्रोथ में चला गया। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।